रामलीला के रावण ने मरने से पहले बचाई तीन लोगों की जान

0
909

अमृतसर: चार साल से रावण का किरदार निभाने वाले दलबीर सिंह (32) की भी इस हादसे में मौत हो गई। वे रामलीला का मंचन होने के बाद अपनी ड्रेस और स्मृति चिन्ह घर पर रखकर रावण दहन देखने जा रहे थे। उनकी आठ महीने की बेटी है। उनके बड़े भाई ने चश्मदीदों के हवाले से बताया कि दलबीर ने ट्रेन आती देखकर लोगों को ट्रैक से हटने को कहा। ट्रैक से खींचकर तीन लोगों की जान बचाई, लेकिन खुद ट्रेन की चपेट में आ गया।हादसे में ज्यादातर बच्चों की मौत ट्रेन की चपेट में आने से नहीं हुई, बल्कि पैरों से कुचले जाने से हुई। दरअसल, भगदड़ मची तो दूर खड़े माता-पिता के हाथों से उनके बच्चों की उंगलियां छूट गईं और लोग उन्हें रौंदते चले गए। हालात ये थे कि बच्चों की छोटी-छोटी चप्पलें, खिलौने, चाॅकलेट, टाॅफियां रेलवे ट्रैक पर बिखरी थीं। हादसे में कितने बच्चों की मौत हुई है, इसका सही अांकड़ा अभी सामने नहीं आया है। मारे गए बच्चों की उम्र चार साल से लेकर 13 साल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here