तेज बारिश व ओलावृष्टि ने जनपद में मचाई तबाही

0
1223

धान व गन्ने की फसल को हुआ नुकसान, पेड़ उखड़ कर गिरे – सुबह आठ बजे हो गये अंधेरे जैसे हालात

सहारनपुर। जनपद में अचानक तूफान के साथ तेज बारिश व ओलावृष्टि ने एक तरह से तबाही मचा दी। खेतों में खड़ी धान की फसल जहां नष्ट हो गयी, वहीं गन्ने की फसल को भारी नुक्सान होना माना जा रहा है। जगह-जगह पेड़ उखड़कर गिर जाने के कारण विद्युत आपूर्ति ठप हो गयी और ओलावृष्टि से एक बार फिर ठण्ड का अहसास हो गया। सुबह आठ बजे रात के अंधेरे से जैसे हालात पैदा हो गए।
आज सुबह लगभग आठ बजे अचानक ही घनघोर काले बादलों के साथ तूफान, झमाझम बरसात व ओलावृष्टि ने एकाएक मौसम का मिजाज पूरी तरह बिगाड़ दिया। अक्टूबर माह में बरसात के इस रौद्र रूप ने हर किसी को सहमा दिया। आज सुबह लोग नींद से जागे ही थे, कि तभी आसमान में काले बादल की चादर दिखायी दी। धीरे-धीरे काले घने बादलों ने आसमान को अपने आगोश में समेट लिया। चारो ओर अंधेरा छा गया। इसी बीच तेज हवाओं के साथ झमाझम बरसात ने सभी को झकझोर कर रख दिया और ओलावृष्टि से हर कोई सहम गया। अभी कुछ बच्चे स्कूल जा चुके है और कुछ बच्चे जाने की तैयारी कर ही रहे थे कि बरसात ने सभी को अस्त व्यस्त कर दिया और वह में ही दुबके रह गए। बरसात व ओलावृष्टि ने किसानों की खुशियां छीन उनके चेहरे पर चिंता की लकीरें उकेर दी। खेतों में लहरा रही धान की फसल को देख अति उत्साहित किसान आज समय पूरी तरह मायूस हो गए, जब उनकी फसल चंद मिन्टों में बिछ गयी। बारिश रूकने के बाद जब किसान खेतों पर पहुंचे, तो वहां का नजारा देख उनके चेहरे मुरझा गए। तूफान के साथ तेज बारिश ने धान की फसल को पूरी तरह नष्ट कर दिया। तेज हवाओं की तीव्रता से तूफान जैसे हालात बने थे। सड़क किनारे व खेतों में खड़े भारी भरकम पेड़ उखड़कर जमीन पर आ गिरे। जनपद में कई मार्ग पेड़ गिर जाने के कारण बाधित हो गए। अम्बेहटा व फंदपुरी के बीच कई स्थानों पर बीच सड़क पर पेड़ गिरने से घंटों यातायात बाधित रहा। बाद में मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से पेड़ों को हटाकर यातायात को सुचारू किया। इसके अलावा नगर में जगह-जगह जलभराव के कारण लोगों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। नगर के शारदा नगर, खलासी लाइन, लिंक रोड, माधोनगर, पंजाबी, ओजपुरा, रेलवे कालोनी, डीएम कार्यालय, पुलिस लाइन ग्राउण्ड, दीवानी न्यायालय परिसर पूरी तरह जलमगन हो गए और लोगों को पानी के बीच से गुजरना पड़ा। क्षेत्रवासियों ने नगर निगम द्वारा नाले व नालियों की सफाई न किए जाने पर रोष भी जताया। पेड़ गिर जाने के कारण टूटी तारों से घंटों विद्युत आपूर्ति बाधित रही। पेड़ की टहनियां टूटकर विद्युत लाइनों पर आ गिरी, जिस कारण विद्युत तार टूटकर नीचे आ गिरे। विद्युत अधिकारियों का कहना था कि बरसात व तेज हवाओं के कारण भारी नुकसान पहुुंचा है। घंटों विद्युत आपूर्ति सुचारू बनाए रखने के लिए कर्मचारियों को भारी मशक्कत करनी पड़ी। अधिकांश क्षेत्रों में आज दोहपर 1 बजे तक विद्युत आपूर्ति बाधित रही। वहीं बाबा लाल दास रोड स्थित गांधी कालोनी के पार्क में लगी हाईमास्क लाइट का खम्भा उखड़ जाने से वह नीचे आ गिरा। इस दौरान ओलावृष्टि ने ओलो एक बार फिर मौसम का मिजाज पूर तरह बदल डाला और ठण्डक का अहसास कराया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here