जम्मू-कश्मीर का भविष्य भारत के साथ है:उमर अब्दुल्ला

0
934

नई दिल्ली:राधा कुमार द्वारा लिखित किताब ‘पैराडाइज एट वार- ए पॉलिटिकल हिस्ट्री ऑफ कश्मीर’ के विमोचन समारोह में चर्चा के दौरान उमर ने कश्मीरी लोगों की व्यापक स्वायत्तता की मांग को जायज ठहराया। उन्होंने कहा कि इस मामले में कश्मीरी अपने अधिकार के दायरे में है क्योंकि भारतीय संघ में शामिल होने की यह मुख्य शर्त थी।जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कांफ्रेंस के नेता उमर अब्दुल्ला ने शुक्रवार को कहा, वह वास्तव में मानते हैं कि जम्मू-कश्मीर का भविष्य भारत के साथ है। अगर राज्य को आजादी दी गई तो यह अपने बलबूते अस्तित्व भी नहीं बचा पाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here