एम्स ऋषिकेश में पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जांबाजों को श्रद्धांजलि दी गई

0
363
ऋषिकेष ( विरमानी) अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश में पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जांबाजों को मौन श्रद्धांजलि दी गई व घायल जवानों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की गई।  इसके अलावा अमर बलिदानियों की याद में कैंडल मार्च भी निकाला गया, जिसमें संस्थान के विद्यार्थियों के साथ ही फैकल्टी व चिकित्सक शामिल हुए। शनिवार को संस्थान में आयोजित सभा में पुलवामा आतंकी हमले में हताहत हुए वीर सैनिकों को दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस अवसर पर एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने इस तरह की घटनाओं को किसी भी देश व समाज की प्रगति में बाधक बताया। निदेशक एम्स प्रो.रवि कांत ने इस घटना को देश, समाज व शहीद हुए सैन्य परिवारों के लिए गहरा आघात बताया। उन्होंने कहा कि सैनिक देश की सीमाओं पर प्रतिकूल हालातों में भी हमारी रक्षा के लिए हरदम तैनात रहते हैं, तब हम सुरक्षित हैं। ऐसी स्थिति में सभी का कर्तव्य है कि वह दुख की इस घड़ी में शहीदों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए उनके परिवारों के साथ खड़े रहें। एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो.रवि कांत ने असुक्षा के माहौल को देश की प्रगति में बाधक करार दिया व बताया कि स्वतंत्रता से पूर्व देश का एक बड़ा तबका गरीबी की रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहा था। मगर इसके बाद की हमारी प्रगति हमें  सैनिकों द्वारा दिए गए सुरक्षा कवच से ही मिल पाई है। निदेशक एम्स ने कहा कि इस घटना के बाद से देशभर में शोक व आक्रोश व्याप्त है। ऐसे मौके पर एम्स संस्थान शहीद जवानों के परिवारों व सिक्योरिटी फोर्स के साथ है। उधर संस्थान के छात्र -छात्राओं, चिकित्सकों व फैकल्टी मेबरों ने कैंडल मार्च निकालकर शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर संस्थान के मेडिकल सुपरिटेंडेंट डा.ब्रह्मप्रकाश, प्रोफेसर बीना रवि, प्रो.मनोज गुप्ता, डा.बलराम, डा.विनोद, पीएस राणा आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here