आशिक की मदद से बेटी ने ही कर दिया मां बाप का कत्ल

0
336

दिल्ली:ये दर्दनाक और अफसोसनाक मामला देश की राजधानी के पश्चिम विहार इलाके में सामने आया है।बेटी ने पुलिस के सामने कबूल किया कि मां-बाप की लाखों की प्रॉपर्टी पाने के लिए उसने मां-बाप की हत्या की थी, जिसमें बॉयफ्रेंड प्रिंस ने उसका साथ दिया था.डीसीपी सेजू पी कुरुविला के मुताबिक, 47 वर्षीय महिला जागीर कौर और उनके पति 50 वर्षीय गुरुमीत कौर निलोठी एक्सटेंशन में रहते थे। इनकी 26 साल की बेटी देविंदर कौर उर्फ सोनिया की शादी हो चुकी है। उसके 6 और 5 साल के दो बच्चे भी हैं। लेकिन वह पिछले एक साल से पति और बच्चों को छोड़कर लखनऊ के गोमती नगर एक्सटेंशन निवासी प्रिंस दीक्षित (29) के साथ रह रही है। देविंदर कौर की नजर अपने मां-बाप की प्रॉपर्टी भी थी। देविंदर इसे अपने नाम कराना चाहती थी, लेकिन मां-बाप तैयार नहीं थे। इसी के बाद देविंदर कौर ने अपने मां-बाप को रास्ते से हटाने की साजिश रची। 21 फरवरी को अपने 50 वर्षीय पिता गुरुमीत कौर को पहले चाय में मिलाकर नींद की गोलियां दीं, उसके बाद बॉयफ्रेंड के साथ मिलकर उनका गला दबा दिया। लाश को सूटकेस में डालकर नहर में फेंक दिया। बेटी ने जब पिता की हत्या की, उस वक्त मां जागीर कौर अपने पिता के निधन पर जालंधर गई थीं। 2 मार्च को जब मां वापस आईं तो उन्हें भी नींद की गोलियां देकर मार दिया और शव नहर में डाल दिया। 8 मार्च को पुलिस को कॉल मिली कि नांगलोई के पास ड्रेन में एक सूटकेस फंसा हुआ है। पुलिस ने उसे निकलवाकर देखा तो उसमें जागीर कौर का शव था। दूसरे दिन गुरमीत का भी शव ड्रेन से बरामद हुआ।जागीर कौर का शव मिलने पर पुलिस जब उनके घर तहकीकात के लिए पहुंची तो पता चला कि उनके पति गुरमीत कौर भी कई दिनों से लापता हैं। अगले दिन गुरमीत का शव ड्रेन से बरामद होने के बाद पुलिस ने परिवार के सदस्यों से पूछताछ की। इस दौरान बेटी देविंदर कौर के बर्ताव और लहजे पर पुलिस को शक हुआ। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगाले तो अहम सबूत नजर आए। इसके बाद पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो देविंदर ने जुर्म कबूल कर लिया। उसने बताया कि लाखों की प्रॉपर्टी के लिए ही उसने मां-बाप की हत्या की थी, जिसमें बॉयफ्रेंड प्रिंस ने उसका साथ दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here